NEW DELHI WEATHER
Breaking News
prev next

मौसम विभाग की अगले 24 घंटे में मुंबई समेत इन इलाकों में भारी बारिश की चेतावनी

Image Source : Google

भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने अगले 24 घंटे में भारी बारिश की चेतावनी दी है. मौसम विभाग ने गोवा और मुंबई में बारिश का अलर्ट जारी किया है.

भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने अगले 24 घंटे में भारी बारिश की चेतावनी दी है. मौसम विभाग ने गोवा और मुंबई में बारिश का अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग के मुताबिक, अगले 2 घंटे में तटीय कर्नाटक में तेज बारिश हो सकती है. वहीं पश्चिमी राजस्थान में आंधी आ सकती है. लेकिन दिल्ली समेत उत्तर भारत के कई इलाकों में भीषण गर्मी रहेगा. दिल्ली में पारा 46 डिग्री के ऊपर जा सकता है जबकि दिन में लू चलने से लोगों की परेशानी और बढ़ेगी. लेकिन मंगलवार से तापमान में कमी आ सकती है. आपको बात दें कि केरल और कर्नाटक के साथ ही तमिलनाडु के कुछ इलाकों में भी मानसून पहुंच चुका है. उधर, मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में तमिलनाडु, केरल और कर्नाटक के कई इलाकों में भारी से ज्यादा भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग ने कहा है कि मानसून को आगे बढ़ने के लिए माहौल अनुकूल है और अगले 48 घंटे में ये उत्तर-पूर्व के कुछ इलाकों में भी मौजूदगी दर्ज करा सकता है.

चक्रवाती तूफान को लेकर चेतावनी जारी
मौसम विभाग का कहना है कि 12 और 13 जून को अरब सागर में 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं. वहीं, 13 जून को गुजरात और महाराष्ट्र के तटीय इलाकों में 65 से 75 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने का अनुमान है. यह चक्रवाती तूफान का असर होगा. अरब सागर में चक्रवाती तूफान की पहचान की गई है. इसके धीरे-धीरे केरल की तरफ बढ़ने की आशंका है. हालांकि, अभी तक ओरेंज अलर्ट ही जारी किया गया है.

मौसम विभाग ने अपने ताजा बुलिटेन में दक्षिण-पूर्व अरब सागर के आसपास के इलाकों में मछुआरों को न जाने की चेतावनी दी गई है. इसमें लक्षद्वीप, केरल, और कर्नाटक के तटीय इलाकों पर 10 और 11 जून को खतरा बताया जा रहा है. इसके अलावा महाराष्ट्र और गुजरात के तटीय इलाकों से भी मछुआरों को दूर रहने की हिदायत दी गई है. मौसम विभाग का कहना है कि जो लोग समुद्र के ज्यादा अंदर हैं उन्हें सलाह दी जाती है कि वह वापस तट पर लौट आएं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


11 + twenty =

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.